भारंगम – कुछ रंग कुछ भंग

मृत्युंजय प्रभाकर रंगप्रमेमियों के जीवन में रंग भरने वाला रंग महोत्सव राजधानी दिल्ली के सांस्कृतिक केंद्र के तौर पर विख्यात मंडी हाउस में इस बार 8-22 जनवरी तक गुलजार रहा. […]

Read Article →

समाज के सड़ांध का आईना है – ugly

मृत्युंजय प्रभाकर ‘ugly’ क्या है? यह सवाल पूछने से बेहतर है कि यह पूछा जाए कि क्या ‘ugly’ नहीं है? जिस समाज में हम रहते हैं उस समाज में हमारे […]

Read Article →